हसीना के ठुमकों ने करा दिया युद्ध, लात-घूंसें और ठांय-ठांय में होमगार्ड का बेटा घायल

क्राइम

भागलपुर : बीती रात इलाके के श्रीरामपुर घाट के पास स्थित काली स्थान में अगहनी काली पूजा के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस बीच रात्रि करीब 11 बजे अचानक दो पक्षों में कहासुनी शुरू हो गई और वर्चस्व स्थापित करने के लिए दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। दोनों पक्ष फिल्मी व भोजपुरी गानों को धुन पर ठुमके लगा रही नृत्यांगनाओं संग स्टेज पर डांस करने को लेकर एक-दूसरे पर अपना वर्चस्व दिखाने का कोशिश कर रहे थे। नाच रहीं हसीनाओं के साथ ठुमके लगाने के लिए हुई लड़ाई भयावह हो गई और कार्यक्रम स्थल रणक्षेत्र में बदल गया।

इस क्रम में एक पक्ष ने लात-घूंसों के बाद  पारंपरिक हथियार लेकर दूसरे पक्ष को खदेड़ा है, ऐसी जानकारी मिली है। इसको लेकर वहां कुछ देर के लिए अफरा-तफरी मच गई। वहीं, दूसरे पक्ष द्वारा गोलीबारी करने की बात सामने आ रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दो से तीन राउंड फायरिंग भी हुई है। दो पक्षों की झड़प में एक होमगार्ड के बेटे का पैर कटने से बुरी तरह जख्मी हो गया। स्थानीय ग्रामीण चिकित्सक से घायल युवक का इलाज कराया गया। करीब तीन चार घंटे तक दोनों पक्षों में रुक रुक कर भिड़ंत होती रही।

इस बीच मौके पर मौजूद होमगार्ड जवान तमाशबीन बने रहे। आश्चर्य की बात ये है की मौके पर मौजूद कई शांति समिति के सदस्य थे,लेकिन किसी ने घटना की सूचना देना स्थानीय थाने को जरूरी नहीं समझा। वहीं मौके पर मौजूद मेला ड्यूटी में तैनात होमगार्ड जवानों ने स्थानीय थाने को सूचना देना तक जरूरी नहीं समझा। वहीं, तनाव बढ़ता देख समाज के बुद्धिजीवियों ने सबसे पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम बंद करवाया। तदोपरांत, दोनों पक्षों को समझा-बुझा कर मामला शांत कराया गया।

वहीं इस संबंध में जब नाथनगर इंस्पेक्टर खलीक उजमा से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि ऐसी कोई सूचना थाने को नहीं मिली है। घटना के बारे में पता लगाया जाएगा। लिखित शिकायत मिलने पर जांचोपरांत अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *