पटना: शराब माफियाओं ने शिक्षा के मंदिर को बनाया शराब का अड्डा, पालीगंज के निजी स्कूल से पुलिस ने भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब को किया बरामद, शराब माफियाओं की तलाश में जुटी पुलिस, पिछले कई सालो से चल रहा था शराब माफियाओं का कारोबार

क्राइम

ब्यूरो चीफ पटना निशांत सिंह

बिहार में तो वैसे शराबबंदी कानून पिछले कई सालों से लागू है इसके बावजूद भी शराबमाफिया बाज नहीं आ रहे हैं अब तो शराब माफिया शिक्षा जैसे मंदिर को भी अपना ठिकाना बनाना शुरू कर दिया है ताजा मामला पटना जिला के पालीगंज थानाक्षेत्र का है जहां पालीगंज थाना क्षेत्र के पैरपूरा गांव स्थित बंद पड़े कला संस्कृति विद्यालय से पालीगंज पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब की खेफ बरामद किया है जो कई ब्रांड के बोतल शामिल हैं।

दरअसल पालीगंज थानाअध्यक्ष सह इंस्पेक्टर विजय कुमार गुप्ता को गुप्त सूचना मिली कि थानाक्षेत्र के पैरपुरा गांव स्थित बंद परे कला संस्कृति विद्यालय में शराब माफिया शराब का अड्डा बना कर रखा है और भारी मात्रा में शराब की खेप को छुपाकर रखा हैं जिसके बाद पुलिस की टीम गठित करने के बाद स्कूल में छापेमारी की गई जहां स्कूल के अंदर एक बंद कमरे में अंग्रेजी शराब की खेफ छुपाकर रखे गए थे।

जहां पुलिस भी दंग रह गई और शिक्षा जैसे मंदिर में अब शराब माफिया अपना नया ठिकाना बना रखे थे ।फिलहाल पुलिस ने मौके से सभी अंग्रेजी शराब की खेप को बरामद कर थाना ले आई और आगे की कार्रवाई में जुट गई। वही इस संबंध में पालीगंज थानाअध्यक्ष सह इंस्पेक्टर विजय कुमार गुप्ता ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि थाना क्षेत्र के पैर पूरा गांव स्थित एक निजी स्कूल जो काफी दिनों से बंद पड़ा हुआ है उसके अंदर शराब माफिया अपना ठिकाना बना कर रखे हैं जिसके बाद पुलिस की टीम छापेमारी करने पहुंची जहां स्कूल के अंदर एक बंद कमरे से 313 लीटर अंग्रेजी शराब की खेप बरामद किया गया।

फिलहाल शराब बरामद होने के बाद स्कूल के कर्मियों एवं आसपास के लोगों से पूछताछ की जा रही है कि आखिरकार शराब किसकी है और कब से यह कारोबार चल रहा है

Leave a Reply

Your email address will not be published.