होटलकर्मी की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा, हत्या का लगाया आरोप

Breaking news

मोतिहारी / राजन द्विवेदी।

शहर के मशहूर जायसवाल होटल के कर्मी की संदिग्ध स्थिति में हुई मौत पर परिजनों ने खुब हंगामा किया। इससे जायसवाल होटल में हड़कंप मच गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घटना की जांच में जुट गई है। मृत कर्मी की पहचान कल्याणपुर थाना क्षेत्र के बाकरपुर गांव के रहने वाले अरुण श्रीवास्तव के रूप में हुई है। मृतक होटल में ही रहता था और कार्य करता था। घटना की जानकारी मिलने पर पहुंचे मृतक के परिजनों ने हंगामा किया और होटल संचालक पर हत्या का आरोप लगाया है। बताया जाता है कि सोमवार को एक होटल कर्मी की मौत की जानकारी होटल संचालक सुनील जायसवाल को लगी। वे होटल पहुंचे और एम्बुलेन्स को बुलवाकर शव को रखवा दिया। मृतक के परिजनों को अरुण श्रीवास्तव के मौत की जानकारी दी। अरुण श्रीवास्तव के परिजन पहुंचे और होटल पर हंगामा करने लगे। हंगामा की जानकारी मिलने पर सदर एएसपी शिखर चौधरी और छतौनी थाना की पुलिस पहुंची। मृतक के परिजनों को समझा-बुझाकर शव को पोस्टमार्टम को लिए सदर अस्पताल भेजा। पुलिस ने होटल के सभी कर्मियों को तत्काल पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। मृतक के भतीजा रंजन श्रीवास्तव ने बताया कि मेरे चाचा अरुण श्रीवास्तव एक साल से जायसवाल होटल में काम कर रहे थे। आज होटल मालिक ने फोन किया कि खांसी होने से उनकी मौत हो गई है। जब हमलोग यहां पहुंचे तो शव को एम्बुलेंस पर रखा गया था। हमलोगों ने शव को देखने की जिद की तो शव दिखाया गया।‌ शव के बीच छाती में तेज धारदार हथियार का जख्म है। जबकि होटल वाले कह रहे हैं कि खांसने से मौत हुई है। होटल वालों ने सभी खून को साफ कर दिया है। मेरे चाचा की स्वभाविक मौत नहीं हुई है बल्कि उनकी हत्या की गई है। इस संबंध में सदर एएसपी शिखर चौधरी ने बताया कि होटल में एक व्यक्ति की संदिग्ध मौत हुई है। जिसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। जांच के लिए एफएसएल की टीम को बुलाया गया है। जांच के बाद हीं घटना की सच्चाई सामने आ पाएगी।