बिहार: शराब के अड्डे पर दबिश देने पहुंची पुलिस पर हमला, दरोगा की मौत, होमगार्ड का जवान घायल

बिहार

बिहार के बेगूसराय में शराब तस्करों के हौंसले बुलंद हैं. मंगलवार की देर रात शराब तस्करों ने पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया. इस हमले में दरोगा की मौत हो गई है. जबकि होमगार्ड का एक जवान बुरी तरह से जख्मी हो गया है. उसे बेगू सराय के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तस्करों की गिरफ्तारी के लिए कांबिंग शुरू कर दी है. वारदात के वक्त बेगूसराय पुलिस की एक टीम अवैध शराब के अड्डे पर दबिश के लिए पहुंची थी.

मामला बेगूसराय के नावकोठी थाना क्षेत्रमें छतौना पुल का है. पुलिस को सूचना मिली थी कि यहां अवैध शराब की बड़ी खेप आ रही है. यह खेप एक ऑल्टो कार में छिपा कर लाई जा रही है. इस सूचना पर नावकोठी थाने में तैनात दरोगा खमास चौधरी दल बल के साथ मौके पर पहुंच गए. उन्होंने घेराबंदी भी कर ली, लेकिन ऐन वक्त पुलिस टीम पर हमला हुआ और शराब तस्कर भी दरोगा को रौंदते हुए मौके से फरार हो गए.

पुलिस के मुताबिक इस हमले में शराब तस्करों की गाड़ी से कुचलकर दरोगा खामास चौधरी की मौत हो गई है. वहीं होमगार्ड के जवाब बालेश्वर यादव को गंभीर चोटें आई हैं. उन्हें फिलहाल सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है. उधर, तस्करों के इस हमले की खबर मिलते ही जिले की पुलिस ने सीमाओं को सील करते हुए व्यापक स्तर पर नाकाबंदी और कांबिंग शुरू कर दी है. पुलिस ने बदमाशों का सुराग लगाने के लिए इलेक्ट्रानिंग और मैन्यूअल सर्विलांस लगा दिया है. हालांकि अब तक तस्करों की कोई खबर नहीं मिली है.

घायल होमगार्ड के जवान बालेश्वर यादव ने बताया कि तस्करों के आने की सूचना पर कड़ी नाकाबंदी की गई थी. जैसे ही तस्करों की गाड़ी दिखी, अचानक किसी ने पुलिस टीम पर हमला किया. इतने में तस्करों की कार दरोगा को रौंदते हुए निकल गई. बालेश्वर के मुताबिक मौके पर तैनात अन्य पुलिसकर्मियों ने इधर उधर भाग कर अपनी जान बचाई. उधर, बेगू सराय पुलिस ने देर रात बताया कि कांबिंग के दौरान कार मालिक को दबोच लिया गया है. हालांकि अभी तक कार बरामद नहीं हो सकी है.